पर्यावरण दिवस

रचनाकार- रश्मि दूबे
“भाइयों, बहनों… प्रकृति हमारी माता है और माता का सम्मान करना हमारा धर्म है. मैं, आज पर्यावरण दिवस के अवसर पर आप सबसे अपील करता हूँ कि ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगायें. प्लास्टिक का इस्तेमाल कम से कम करें और प्रकृति माता का सम्मान करें. आइये आज आप सब मेरे साथ कसम खाएं हम सब मिलकर इस धरती को हरा भरा बनायेंगे.”

नेता जी ने तालियों के साथ अपने भाषण का समापन किया और अपनी गाड़ी में बैठ कर निकल गए.

जमनापार की उनकी नयी फैक्ट्री अपने उद्घाटन के लिए उनका इंतजार कर रही थी.

अन्य कहानियांलघुकथाएं, साहित्य चर्चा  पढने के लिए क्लिक करें।

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *